बालूशाही बनाने की विधि | Balushahi Recipe in Hindi

Balushahi Recipe in Hindi – बालूशाही मिठाई खाने में बहुत स्वादिष्ट व् मजेदार होती है | इसे पुरे भारत में खूब पसंद किया जाता है | कुछ जगहों पर बालूशाही को खुरमा और खस्ता के नाम से जानते है | बालूशाही ( Balushahi ) को आपने मिठाई की दूकान से खरीदकर खाया होगा | पर आज हम आपको घर पर ही हलवाई जैसे बालूशाही रेसिपी ( Balushahi Recipe ) बता रहे है |

घर पर बालूशाही रेसिपी बनाना बहुत ही आसान है | अगर आप भी हमारी जैसी रस भरी बालूशाही रेसिपी बनाना चाहते है तो हमारे द्वारा बताई गई बालूशाही बनाने की विधि को ध्यान से पूरा पढ़े |

तो आइये ज्यादा देर न करते हुए जानते है फिर बालूशाही बनाने का तरीका |

आवश्यक सामग्री ( Recipe of Balushahi )

  • मैदा —– 2 कटोरी ( कप )
  • चीनी —– 2 कटोरी
  • इलायची —– 2 से 3 ( कुटी हुई )
  • फ़ूड कलर —– थोड़ा सा
  • देसी घी —– आधी कटोरी
  • बेकिंग पाउडर —– 1 छोटा चम्मच
  • नमक —– एक चुटकी
  • पानी —– आवश्यकता अनुसार
  • तेल या घी —– बालूशाही तलने के लिए

बालूशाही कैसे बनाये | बालूशाही कैसे बनाते है |  Balushahi Recipe | Recipe of Balushahi | Recipe of Balushahi in Hindi | How to Make Balushahi | Balushahi Recipe Hindi |

बालूशाही बनाने की विधि ( Recipe of Balushahi in Hindi )

– बालूशाही मिठाई बनाने के लिए सबसे पहले मैदे को एक परात में छान लीजिये | अब मैदे में देसी घी, बेकिंग पाउडर और एक चुटकी नमक डालकर अच्छे से मिला लीजिये |

– जब यह सब अच्छे से मिल जाये तो मैदे में थोड़ा थोड़ा पानी डालकर मसल मसल कर इकट्ठा कर लीजिये इसे नहीं गूंधना है | आटे को इकट्ठा करने में आधा कप पानी का लगेगा | ( मिल्क केक बनाने की विधि )

– जब आटा अच्छे से इकट्ठा हो जाये तो इसे गिले कपड़े से ढककर 25 से 30 के लिए एक तरफ रख दीजिये |

– इतने समय में हम चाशनी बनाकर तैयार कर लेते है | बालूशाही चाशनी बनाने के लिए एक छोटे पतीले में 2 कटोरी चीनी और एक कटोरी पानी की डालकर गैस पर पकने के लिए रख दीजिये और इसे बीच बीच में चम्मच से चलते रहिये |

– जब चीनी पानी में अच्छे से घुल जाये तो इसमें कुटी हुई इलायची और फ़ूड कलर डालकर चम्मच से चलाइए | अब गैस की आंच को धीमा करके चाशनी को हल्का गाढ़ा होने तक पकने दीजिये | ( कलाकंद कैसे बनाये )

– कुछ समय के बाद जब चाशनी पककर गाढ़ी हो जाये तो गैस को बंद कर दीजिये और चाशनी को गैस से निचे उतारकर रख दीजिये |

– तय समय के बाद मैदे के आटे को हाथों से फैलाकर एक तरफ के फैले आटे को दुसरे तरह रखकर फिर से फैला दीजिये यानि एक के एक परत रख का इस प्रोसेस को 4 से 5 बार दोहराकर आटे को मिक्स कर लीजिये |

– अब मिक्स आटे की छोटी छोटी लोइया बना लीजिये | ( आप अपने मन चाहे आकर में छोटी या बड़ी लोइया बना सकते है )

– अब एक लोई को हाथ में रखकर गोल करके हल्का सा दबाकर लीजिये फिर अंगूठे से इसके बीच एक छेद कर लीजिये | छेद करने से बालूशाही अंदर तक अच्छे से पक जायेगा और इसका स्वाद निखर के आएगा | अब तैयार बालूशाही को प्लेट में रख दीजिये और इसी तरह सारी बालूशाही को बनकार तैयार कर लीजिये | ( गुजिया बनाने की विधि )

– कड़ाई में तेल डालकर गैस की मीडियम आंच पर गर्म होने के लिए रख दीजिये |

– तेल हल्का गर्म हो जाये तो गैस की आंच को धीमा करके इसमें बालूशाही डालकर दीजिये | ( कड़ाई में उतने ही बालूशाही डाले जितने की कड़ाई में आ जाये एक बार में कड़ाई में 5 से 6 बालूशाही आएगी )

– जब बालूशाही पककर उपर आ जाये यानि तेल में तैरने लगे तो इन्हें हल्के हाथों से पलट दीजिये | बालूशाही को दोनों तरफ से सुनहरा होने तक सेक लीजिये | ( बालूशाही को धीमी आंच पर ही सेकें ऐसा करने से बालूशाही अंदर तक अच्छे से सिक जायेगा )

– जब बालूशाही दोनों तरफ से अच्छे से सिककर सुनहरी हो जाये तो बालूशाही को तेल में से बाहर निकालकर चाशनी में डालकर डिबो दीजिये |

– दूसरी बार बालूशाही को तलने के लिए गैस को 2 मिनट के लिए बंद कर दीजिये ताकि तेल थोडा सा ठंडा हो जाये फिर इसी तरह सारी बालूशाही को तलकर चाशनी में डालकर डिबो दीजिये | बालूशाही को लगभग 9 से 10 मिनट तक चाशनी में डिबोकर रखे ताकि चाशनी बालूशाही के अंदर तक रच जाये | ( इतने मैदे से 14 से 15 बालूशाही बनकर तैयार हो जाएगी )

– 10 मिनट के बाद बालूशाही को चाशनी में से बाहर प्लेट में निकाल लीजिये | ( कद्दू की बर्फी )

– बालूशाही को सजाने के लिए करने एक प्लेट में लगाकर रखे और उसके ऊपर कटे हुए बादाम डालकर सजा दीजिये |

– लीजिये बनकर तैयार है एकदम स्वादिष्ट व् रसभरी बालूशाही ( Balushahi ki Recipe ) | इस रसभरी बालूशाही को परोसिएं |

– बालूशाही को फ्रिज में रखकर 10 से 12 दिन तक खा सकते है | बालूशाही को आप दिवाली हो या होली या फिर किसी भी त्यौहार को या जब आपका मन करे बनाकर खा सकते है |

सुझाव

– मैदे को आटे की तरह गुधना नही है बस इसमें थोड़ा थोड़ा डालकर हाथों से मिलाते हुए जोड़ना है |

– बालूशाही को धीमी आंच पर तले ताकि बालूशाही अन्दर तक अच्छे से पक जाये |

– बालूशाही को कम से कम 10 मिनट चाशनी में डिबो कर रखे ताकि चाशनी बालूशाही के अंदर तक रच जाये |

शेयर करें

Leave a Comment